Manthan

38 Posts

222 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 17717 postid : 763384

ऐसी महंगाई जो सबको रास आई (तम्बाकू प्रोडक्ट्स जन्य कैंसर )

  • SocialTwist Tell-a-Friend

घोर आश्चर्य की बात है तम्बाकू और इसके दूसरे products पर टैक्स बढ़ाने का किसी राजनैतिक दल संस्था या आम जनता यहाँ तक की गरीब से गरीब आदमी ने भी विरोध नहीं किया मतलब साफ है

सभी जानते हैं यह नुकसान दायक है यह जनता की मौन स्वीकृति का परिचायक है और मोदी सरकार का साहसिक कदम |

तम्बाकू और सिगरेट व इनके जैसे तम्बाकू युक्त चीजों के सेवन से इसका  उपभोग करने से कई प्रकार की बीमारियाँ हो जाती हैं अगर सेवन करने वालों को Public Health Deptt की तरफ से बृहत्  जानकारियां प्रदान की जायें तो इनका प्रभाव छोड़ने में मदद करेगा | सबसे भयंकर परिणाम निम्न प्रकार के कैंसर के रूप में होता है जो तम्बाकू जन्य कैंसर की वजह से जवान स्मोकर्स के फेफड़े एक सत्तर साल के वृद्ध जितने कमजोर हो जाते हैं

मुहं  का कैंसर –लगभग दस लाख से अधिक लोग हर वर्ष  भारत में कैंसर के शिकार हो रहें हैं लेकिन यह और भी अधिक गति से बढ़ते जायेगे|२०२५ तक यह आकड़ा पांच गुना होने की सम्भावना है

देश के जिन हिस्सों में तम्बाकू पान में,  गुटके के रूप में ,बीडी  या सिगरेट के के रूप में इस्तेमाल किया जाता है वहाँ कैंसर के केस सबसे अधिक पाए जाते हैं

फेफड़े का कैंसर –यह मर्दों में सबसे अधिक पाया जाता है कुल कैंसर के केस में १७% केस तम्बाकू की देन  है | कैंसर के कुल जितने केस आते  आते है उनमें २३% मौते फेफड़े के कैंसर से होती हैं |

तम्बाकू और इसके द्वारा बनाये गये उत्पाद को कम प्रयोग करना या बेह्तर है बिल्कुल भी प्रयोग न करना  तम्बाकू जन्य कैंसर की बिमारियों को रोकने का सफलतम तरीका है |

कैंसर को यदि जानना चाहते हैं तो एक बार इस बार्ड की और चक्कर लगा लें असहनीय पीड़ा में चीखते चिल्लते लगभग मौत मांगते मरीजों जिनके दर्द से निज़ात सिर्फ मोर्फिन का (अफीम का सत ) जैसी दवाईयों से ही कम हो पाता है इस लिए सरकार को इस असाध्य रोग की ज्यादा से ज्यादा जानकारी दी जानी चाहियेऔर इस पर टैक्स भी बढ़ाते जाना चाहिए

वैभव शाली देश भी व्यसन जन्य रोगों के उपचार के आर्थिक बोझ  को वहन नहीं कर सकते यदि इन उत्पादों का प्रयोग समाज में कम होता जाये तो जिस जमीन पर तम्बाकू उगाया जाता है वह दूसरे  उपयोगी  खाद्य पधार्थों की खेती के लिए उपलब्ध हो सकेगी ताकि अन्न आदि कमी को दूर किया जा सके |

तम्बाकू सेवन  से दस लाख लोग प्रतिवर्ष मर जाते हैं जबकि  इससे अधिक लोग AID मर्डर आत्म हत्या एवं अल्कोहल और ड्रग सेवन  की मौतों से भी  नही मरते इससे अधिक तम्बाकू सेवन मार देता है

किंग्स कालेज लन्दन में हुये शोध के अनुसार धूम्र पान  दिमाग के तन्तुओं  को कुछ इस तरह नुकसान पहुचाते हैं  जिससे याददाश्त ,समझने एवं तर्क वितर्क  की क्षमताओं को क्षीण करता है

यह प्रमाणित तथ्य  है कि स्मोकिग किसी को खुश नही करता परन्तु पीने वाले को अहसास होता है यह  आनन्ददायक है बल्कि धूम्र पान करने वाले स्वभाव से खुश मिजाज नहीं होते जितना वह नशे में सोचते हैं

जिस घर में एक बजुर्ग को तम्बाकू जन्य कैंसर हो जाता है उस घर का बच्चा भी इसके सेवन से बचता है तथा दूसरो को भी बचने की सलाह देता है क्योंकि उसने व्यथा को पास से  देखा है तम्बाकू सेवन वाले अक्सर यह दलील देते हैं अमुक कई वर्षों से तम्बाकू  का सेवन कर  रहा है उसको कुछ नहीं हूआ यह दलील इस बात की गारंटी नहीं है कि यह  रोग किसी को बख्श देगा न जाने दानव  रुपी रोग कब शुरू हो जाये  इसे ठीक करना मुश्किल हो जाये |

तम्बाकू से बनी वस्तूओं पर टैक्स लगने का सबसे अधिक लाभ यह होगा स्कूल या कालेजों के सामने धूआ उड़ाते  को देख कर दूसरो  दिल नही मचलेगा क्योंकि यह व्यसन स्टूडेंट की जेब पर भारी पड़ता है

DR Ashok Bharadwaj

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

29 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Shobha के द्वारा
July 15, 2014

ऐसी महगाई जो सबको रास आई शीर्षक से कैंसर के विषय को उठा कर आपने तम्बाकू जन्य कैसर पर बहुत अच्छा प्रकाश डाला है काश हम आज की नवजवान पीढ़ी को इस व्यसन से बचा सके एक सकारात्मक परिश्रम शोभा

utkarshini v के द्वारा
July 15, 2014

अंकल आपसे रिक्वेस्ट है आप अपने आर्टिकल की हैडिंग में तम्बाकू प्रोडक्ट से होने वाले कैंसर को प्लीज हाई लाइट करें |मैं कालेज जा रही थी एक सज्जन ने मुझे रोक कर कुछ पूछा उनके गले से अजीब आवाजें निकल रहीं थी जो हमारे किसी के समझ नहीं आ रही थी हम सब परेशान हो गए कि यह क्या चाहते हैं अंत में मैने उन्हें डायरी और पेंसिल दी उन्होंने लिख कर बताया वह किसी घर का पता पूछ रहे है और गले से अजीब आवाज निकलने का कारण गले के कैंसर की वजह से उनकी जुबान हटा दी गई है में बहुत दुखी हुई केजा

drashok के द्वारा
July 15, 2014

आपके सुझाव को मान कर मैनेअपने लेख में स्पष्ट कर दिया है कि मैं कैंसर के विषय में समझाना चाहता हूँ सुझाव का बहूत शुक्रिया कैंसर का विषय अब ऐसा हो चूका है जिस पर चर्चा करने का समय आ गया है क्योंकि जवान पीढ़ी कम उम्र में सिगरेट और गुटके की लत में फस रही है डॉ अशोक

drashok के द्वारा
July 15, 2014

शोभा जी मेरे अपने करीबी प्रतिभा सम्पन्न बड़ी ऊची पोस्ट पर थे एक गले के कैंसर से दूसरे फेफड़े के कैंसर से बहूत कम उम्र में चल बसे एक को में बहूत समझता था सिगरेट मत पियो पर वह हंस कर कहते थे मामा कुछ नहीं होता परन्तु मैनेउन्हें अंतिम समय में देखा है उसे मैं भूल नहीं सकता मैं हर सिगरेट और गुटके का सेवन करने वाले व्यक्ति जो भी मेरे सम्पर्क में आता है उसे पूरी तरह समझाने की कोशिश करता हूँ कुछ पर असर पड़ा है उन्होंने छोड़ दिया कुछ महीने बाद वह मेरे पास मिलने आये उनकी हेल्थ देख कर मैं हैरान रह गया उनके चेहरे चमक रहे थे वह पूरी तरह स्वस्थ थे डॉ अशोक

Nirmala Singh Gaur के द्वारा
July 15, 2014

सरकार का यह कदम सराहनीय है और आपका ये आलेख भी ,तम्बाकू से जो भी चीजें बनतीं हैं उनकी विक्री भी किशोर बच्चों के लिए प्रतिबंधित होनी चाहिए ,जिससे स्कूल -कालेजों के परिसर धुआं मुक्त हो सकें और देश के भावी नागरिक किसी असाध्य बीमारी के शिकार न हों ,अच्छे आलेख के लिए हार्दिक आभार आदरनीय डॉ.अशोकजी .

Abhishek के द्वारा
July 15, 2014

Very insightful Article… I’m a smoker and my will to quit increased after going through this piece.

drashok के द्वारा
July 15, 2014

निर्मला जी सरकार तम्बाकू के सेवन पर रोक नहीं लगा सकती चोरी छिपे बिकने लगेगा फिर गुटका तो ऐसा व्यसन है जो हर स्थान पर मिलता है बस पूडिया को फाड़ने की जरूरत है सिगरेट में तो माचिस की जरूरत पड़ती है मैनेबजट आने के बाद देखा ७२%टेक्स के बाद भी कोई नहीं बोला इसका मतलब साफ है लोग तम्बाकू छोड़ना चाहते है महंगी होने पर शायद इसका सेवन कम हो जाए मेरे लेख पढने का शुक्रिया thank you very much DR ashok

Aparna के द्वारा
July 15, 2014

Very nice article. These are very important points that everyone should know about

Aparna के द्वारा
July 15, 2014

Very nice article papa. More people should read this. I feel sad that smokers do not take this threat seriously.

Aparna के द्वारा
July 15, 2014

Very nice article. I feel sad that smokers do not appreciate this threat.

drashok के द्वारा
July 15, 2014

अपर्णा जल्दी ही लोग समझ जायेंगे तम्बाकू कितना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है जीवन सबको प्यारा होता है लेख पढने का बहूत-बहूत शुक्रिया डॉ अशोक

drashok के द्वारा
July 15, 2014

राजू तुमने भी मेरा लिखा लेख पढ़ लिया तुम जानती हो मैं सिगरेट गुटका शराब के मामले में कितना senstive हूँ मैं ज्यादा से ज्यादा इस पर टेक्स लगाने का भी हिमायती हूँ इसके साथ इससे होने वाले नुकसान भी समझाने का हिमायती हूँ सरकार को ज्यादा से ज्यादा इससे होने वाले नुकसान का प्रचार करना चाहिए डॉ अशोक

drashok के द्वारा
July 15, 2014

Thank you Aparna DR Ashok

drashok के द्वारा
July 15, 2014

Dear Abhishek Yes my article is eye opener which may lead to think twice for the beginer’s and may lead to leaving of this habit by tobaco users .

sadguruji के द्वारा
July 16, 2014

बहुत अच्छा लेख ! इतना शिक्षाप्रद और उपयोगी लेख लिखने के लिए बहुत बहुत बधाई ! दिनरात नशा करके मौत के मुंह में समाने जा रहे बहुत से लोंगो को नशा छोड़ने के लिए मैने प्रेरित किया और आज वो सभी लोग स्वस्थ और बहुत खुश हैं !

drashok के द्वारा
July 16, 2014

श्री सद्गुरूजी मेरा आर्टिकल पढ़ने के लिए धन्यवाद परन्तु यदि आप जैसे समाज सेवी अपने सम्पर्क में आने वालों को सिगरेट और गुटका के खिलाफ समझायेंगे उसका असर अधिक होगा यह एक दिन हमारे नोजवानों को घुन की तरह चाट जायेगा अब तो लडकियां भी कम नही रही है विदेशों में जबरदस्ती बैन कर यह जहर हमारे बच्चों को दिया जा रहा है डॉ अशोक

jlsingh के द्वारा
July 16, 2014

डॉ. साहब, सादर अभिवादन! अच्छे और ज्ञानपरक आलेख के लिए बधाई! वैसे मेरी समझ से नशा करनेवाले पर शायद ही फर्क पड़े. बजट सुनने के बाद ही सुनने में आया की इन वस्तुओं की कालाबाजारी शुरू हो गयी है और लोग दुगने दाम देकर भी खरीद रहे हैं भले ही वे टमाटर प्याज पर आंसू बहा लेते हैं. मुझे तो ऐसे लोगों से सख्त चिढ़होती है पर क्या करून मेरे बहुत सारे मित्र नशेड़ी हैं और उनके मुंह की बदबू मुझे बड़ी अप्रिय लगती है…पर क्या करूँ …उन्ही लोगों के बीच रहना है…कोशिश करता हूँ, उन्हें समझाने का ..अगर गरीब लोग इस नशे से मुक्त हो जाएँ तो अच्छा है पर नशेड़ी लोगों में दोस्ती भी गजब की होती है यहाँ लोग स्तर नहीं देखते …बहरहाल सरकार की आय बढ़ने वाली है…

deepak pande के द्वारा
July 17, 2014

SAMAAJ KO IN VYASANON SE BACHANE HETU EK SAMAJOPYOGI LEKH BAHUT KHOOB

drashok के द्वारा
July 17, 2014

केवल मेरे लेख की प्रशंसा से काम नही चलेगा पाण्डेय जी आप को भी आस पास के समाज को मुतासिर करना पड़ेगा सिगरेट गुटका नुकसान दायक है सबसे बड़ी बात बच्चे खा रहे हैं लेख पढने का शुक्रिया डॉ अशोक

drashok के द्वारा
July 17, 2014

श्रीमान सिंह साहब आपने लेख ही नही पढ़ा बल्कि बल्कि मेरी नॉलेगे में वृद्धि की वाकई मेने सोच कर देखा एक नशेड़ी दूसरे को झट से पहचान लेता हैं कई बार रिक्शे वाले से तम्बाकू मांग लेते है वह बड़ी खुशी से देता है वाकई नशे की लत वालों को समझाना मुश्किल है पर जब गाल पर गुटके का पैच आता है मरीज पूरा कांप जाते हैं कैंसर पीड़ित का चित्र देखते ही घबरा जाते है फिर से आपका धन्यवाद आप अपना कर्म करते रहिये एक दिन समझ में आ जाता है डॉ अशोक

PKDUBEY के द्वारा
July 18, 2014

देशी तम्बाकू से अधिक गुटखा हानिकारक है आदरणीय और यह गुटखा ,बढ़ता ही जा रहा है | ऐसे सुन्दर और मनमोहक नाम दिए जाते हैं,इस गुटखे के पाऊच को | सरकार इन्हे तत्काल बंद कर सकती है ,पर क्यों नहीं करती मालूम नहीं | जब दुकानो पर गुटखा होगा ही नहीं ,तो खाएंगे कैसे | पर यदि गुटखा मौजूद है ,तो खाने वाला २५ -५० रुपये का भी एक पाऊच लेकर खायेगा | सादर आभार ,बहुत सच्चा लेख |

drashok के द्वारा
July 18, 2014

श्री मान पाण्डेय जी आप ठीक कहते है लोग किसी भी कीमत पर गुटका खरीद कर खायेंगे सरकार को इस पर कठोर कदम उठाने पड़ेगें सरकार चाहे तो क्या नही कर सकती मेरे विचार पढने का शुक्रिया डॉ अशोक

drashok के द्वारा
July 22, 2014

श्री सारस्वत जी तम्बाकू से बने products पर ऐसे ही टेक्स बढ़ेगा लोग यदि छोड़ नहीं पायेगे खाना कम तो कर ही देंगे मेरा लेख पढने का सादर धन्यवाद डॉ अशोक

Lola के द्वारा
October 17, 2016

i am so happy i found this article!! I feel more and more that I made a good choice to chose Salerno as the city I take language course!! I will be there next Sunday and stay there for 4 weeks! really exciting about it, thank you so much been so selhesfliss to share this article with us!


topic of the week



latest from jagran