Manthan

38 Posts

222 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 17717 postid : 730474

" भारत के मुस्लिम बंधुओ से अपील "

  • SocialTwist Tell-a-Friend

अलग थलग मत पड़ो बंधुओ देश की धारा में आ जाओ

भड़काने वालों को समझो वोट बैंक मत बनते जाओ

नफरत से ऊपर उठो और सबके साथ में   आओ

विकास की दौड़ में बनो सहायक और पहले देश बचाओ

देश बचा तब सभी बचेंगे सोचो अपना फर्ज निभाओ

६७  साल  में जो देखा परखा ,ऐसे नेताओं से न धोखा खाओ

अपने नेताओं को देखो किसने तुमको क्यों भड़काया

खेले जिनके हाथों में ,किस नेता ने क्या -क्या मॉल कमाया

मतलब के बिना ये नहीं भड़काते बनें तम्हारे तारण हार

चेतो जागो ,पहचानो इनकी कोरी बातो से नहीं होगा उद्धार

खुश हाली जब आती है सब  में  बट ही जाती है

सभी का हिस्सा मिले सभी को जब देश में शांति आती है        DR. Ashok BhardwaJ

अलग थलग मत पड़ो बंधुओ देश की धारा में आ जाओ
भड़काने वालों को समझो वोट बैंक मत बनते जाओ
नफरत से ऊपर उठो और सबके साथ में   आओ
विकास की दौड़ में बनो सहायक और पहले देश बचाओ
देश बचा तब सभी बचेंगे सोचो अपना फर्ज निभाओ
६७  साल  में जो देखा परखा ,ऐसे नेताओं से न धोखा खाओ
अपने नेताओं को देखो किसने तुमको क्यों भड़काया
खेले जिनके हाथों में ,किस नेता ने क्या -क्या मॉल कमाया
मतलब के बिना ये नहीं भड़काते बनें तम्हारे तारण हार
चेतो जागो ,पहचानो इनकी कोरी बातो से नहीं होगा उद्धार
खुश हाली जब आती है सब  में  बट ही जाती है
सभी का हिस्सा मिले सभी को जब देश में शांति आती है        DR. Ashok BhardwaJ

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

3 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Kartik Kumar Jha के द्वारा
April 11, 2014

बहुत अच्‍छा अपील किये हैं। भारद्वाज जी । जरा मेरे ब्‍लॉग पर भी गौर फरमाएं http://www.kartikkumarjha.jagranjunction.com

drashok के द्वारा
April 11, 2014

dear jha sahb thank you for your reply ashok

Stew के द्वारा
October 17, 2016

It’s a solid tape. Better than most of what’s out there. It’s on par with the other stuff. Better than 11.1.11, but not as good as More About Nothing. Solid, y&817#2;know?


topic of the week



latest from jagran