Manthan

38 Posts

222 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 17717 postid : 722064

"रोने वाले नेता "

Posted On: 24 Mar, 2014 पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

रोने वाले नेता देखे  ,  रोयें झार-झार
ऎसे  नेता कैसे देश बचाए जब देश पे मुश्किल आए
नियम प्रकृति का, पत्ते बदलें, बदलें पेड़ों कि छाल
पर ये सत्ता से चिपकें ,अपनी ममी बनाय
देश चलना नही है भावुक  लोगों का काम
गिने चुने चमचों पर ऐठें जिनको दिया इनाम
देश घिरा संकट में अब , चाहे खून जवान
बैसाखी या पहियों की  कुर्सी वालों से देश  ये करे सवाल
अब तो करो किनारा वृद्धो कर दो यह उपकार
आशिर्वाद दूर बैठ कर दो ,देश का हो उद्धार

रोने वाले नेता देखे  ,  रोयें झार-झार

ऎसे  नेता कैसे देश बचाए जब देश पे मुश्किल आए

नियम प्रकृति का, पत्ते बदलें, बदलें पेड़ों कि छाल

पर ये सत्ता से चिपकें ,अपनी ममी बनाय

देश चलना नही है भावुक  लोगों का काम

गिने चुने चमचों पर ऐठें जिनको दिया इनाम

देश घिरा संकट में अब , चाहे खून जवान

बैसाखी या पहियों की  कुर्सी वालों से देश  ये करे सवाल

अब तो करो किनारा वृद्धो कर दो यह उपकार

आशिर्वाद दूर बैठ कर दो ,देश का हो उद्धार           DR. Ashok bhardwaj

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Kevrell के द्वारा
October 17, 2016

What hurts the hearts is that Armenians and Greeks escaping Anatolia took refuge in semit arab countries like Lebaon and Syria but still tis is not en.ouhgThey bein to live their peacefly and brotherly but this is still not enough for someones.


topic of the week



latest from jagran